• Home »
  • राजनीति »
  • “आप” की मांग – प्राधिकरण अधिकारियों की हो CBI जांच

“आप” की मांग – प्राधिकरण अधिकारियों की हो CBI जांच

ग्रेटर नोएडा : आज आम आदमी पार्टी, गौतमबुद्ध नगर पश्चिमी जोंन उ. प्र. के नेतृत्व में ग्रेटर नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण परिक्षेत्र अंतर्गत ग्रेटर नोएडा वेस्ट (ग्रेटर नॉएडा एक्सटेंशन) में हुए अरबो रुपयों के बिल्डरो को जमीन आवंटन में घोटाले व GNIDA बिल्डिंग बाईलाज 2010 में बिल्डरों के मनमाफित संशोधित कराने में तत्कालीन मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री रमा रमन के भूमिका की सीबीआई जांच, लाखो निवेशको को अविलम्ब फ्लैट दिलवाने, उ.प्र. अपार्टमेंट एक्ट 2010 तथा केंद्र सरकार द्वारा पारित रियल स्टेट रेगुलेटरी बिल को अक्षरशः लागू करवाने के लिए संगठन मंत्री श्री सी एम चौहान, आप यूथ विंग संयोजक राहुल सेठ, दादरी विधान सभ सह संयोजक अनिल कुमार, दादरी विधान सभा संगठन मंत्री सलमू सैफी के नेतृत्व में जिलाधिकारी, गौतमबुद्ध नगर द्वारा माननीय मुख्यंमत्री जी को सूरजपुर कार्यालय पर ज्ञापन सौपा | श्री अंजनी कुमार सिंह, सिटी मजिस्ट्रेट ने ज्ञाप लिया और इसे माननीय मुख्यमंत्री तक पहुचाने का आश्वासन दिया |
aap
इस अवसर पर पार्टी के पश्चिमी जोंन के संगठन मंत्री श्री सी एम चौहान ने कहा कि GNIDA भ्रस्टाचार व लूट की राजधानी है पूर्व की दोनों सरकारों ने इसे खूब लूटा है | सरकार से मांग है कि पिछले दस सालो से यहाँ कार्य किये हुए सभी अधिकारिओ की सीबीआई जांच हो तब तक उन अधिकारिओ को तत्काल निलंबित किया जाय इस बीच उन्हें कोई भी विभाग न सौपा जाय |
निवेशक अरविन्द कुमार सिंह, जार सोसाइटी, ग्रेटर नोएडा ने पूर्व सीइओ श्री रमा रमण का मुद्दा उठाते हुए कहा कि उनके कार्यकाल में ग्रेटर नोएडा एक्सटेंशन का बड़ा घोटाला हुआ और बिल्डरों को फायदा पहुचाने की नियति से GNIDA बिल्डिंग बाईलाज 2010 में बिल्डर मनमाफित बदलाव किये गए जिसकी सरकार समीक्षा करवाते हुए सीबीआई जांच कराये |
निवेशक और RTI एक्टिविस्ट शैलेन्द्र बरनवाल, केप टाउन, नोएडा ने मांग की कि सोसाइटी विकास में प्राधिकरण द्वारा ज्यादा पर्दार्शितता लाइ जाय | प्राधिकरण बिल्डरों की कठपुतली बनकर रह गया है जिसे इस सरकार को ख़त्म करना होगा |
निवेशक ओमेन्द्र नागर, अर्थ इन्फ्राटेक ने बताया की उनका बिल्डर निवेश के लाखो रुपये लेकर चुपके से विदेश भागने की फ़िराक में था जिसे ED ने पकड़कर जेल में दाल दिया इसका कौन जिम्मेवार है |
पश्चिमी उ प्र की सदस्या सविता शर्मा ने गरीबो के प्लाट आवंटन में 20 साल तक की देरी इनकी नियति व चरित्र पर बड़े सवाल खडा करती है ऐसे अधिकारिओ को फ़ौरन निलंबित किया जाना चाहिए |
इस अवसर पर प.उ.प्र सचिव पंकज पाठक, अजीत भाटी, कोषाध्यक्ष उमेश गौतम, राजभुशन त्यागी, अनिल भाटी, उर्वशी चंदीरवानी, नोएडा विधानसभा संयोजक भूपेंद्र जादौन, जिला संयोजक, श्रमिक वर्ग अफताब आलम, महरूफ अली, धर्मेन्द्र भाटी, राकेश सिसौदिया, जीतेन्द्र नागर, डी सी बेलवाल, इस्लामुद्दीन भतीजा, विशाल, जय किशन, गजेन्द्र सिंह, अलोक कुमार सिंह, हिमांशु नगर, प्रीत बहदुर, अंतरिक्ष सारस्वत, शिवम, मोहित, सोनू मालिक पिंकू इत्यादि मौजूद रहे |