• Home »
  • अपराध »
  • गार्डों को बंधक बनाकर फैक्ट्री में डकैती

गार्डों को बंधक बनाकर फैक्ट्री में डकैती

ग्रेटर नोएडा : हथियार बंद बदमाशों ने कासना कोतवाली क्षेत्र स्थित पैकेजिंग फैक्ट्री में देर रात डाका डाला। छह बदमाशों ने फैक्ट्री में लगभग एक घंटे तक घटना को अंजाम दिया। इस दौरान बदमाशों ने फैक्ट्री के दो गार्डों का हाथ बांधकर उन्हें गार्ड रूम में ही बंद कर दिया। जाते समय बदमाश इनवर्टर, बैटरी, लैपटाप, टीवी सहित अन्य सामान ले गए। फैक्ट्री में लगे दो सीसीटीवी को बदमाशों ने तोड़ दिया, लेकिन अन्य जगह लगे कैमरों में डकैतों की तस्वीर कैद हो गई। फैक्ट्री मालिक की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

मूलरूप से दिल्ली निवासी रमन सहगल की कासना साइट चार में सहगल कंसलटेंट प्राइवेट लिमिटेड के नाम से फैक्ट्री है। फैक्ट्री में गत्ता बनाने व प्लास्ट्रिक के डिब्बे बनाने का काम होता है। फैक्ट्री में रात दस बजे तक काम होता। फैक्ट्री में बृहस्पतिवार की रात में दो गार्ड सुनील व सालिग राम तैनात थे। लगभग डेढ़ बजे दीवार कूदकर बदमाश फैक्ट्री में घुस गए। बदमाशों ने हथियार के बल पर दोनों गार्डो को काबू कर उनके हाथ बांधकर फैक्ट्री में ही बने गार्ड रूम में बंद कर दिया। उनका मोबाइल फोन छीन लिया और शोर मचाने पर जान से मारने की धमकी दी। बाद में बदमाश फैक्ट्री में घुसे, जहां दो स्थानों पर लगे सीसीटीवी को तोड़ दिया। पहचान छिपाने के लिए बदमाशों ने मुंह को ढक रखा था। जाते वक्त बदमाश अपने साथ दो लैपटाप, दो कंप्यूटर, दो बैटरी, दो वेल्डिंग मशीन, एक एलइडी, डीजल से भरा दो केन उठा ले गए। गार्ड रूम में बंद गार्डों ने किसी प्रकार से अपना हाथ खोला। बाद में गार्ड रूम में रखे सरिया से गार्डों ने बाहर से बंद गेट को तोड़ दिया। पास में स्थित दूसरी फैक्ट्री से फोन कर घटना की जानकारी मैनेजर को दी।

फैक्ट्री के एक कमरे में बने लाकर में लगभग पचास हजार रुपये रखे थे। बदमाशों ने लॉकर को तोड़ने का काफी प्रयास किया, लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली। इस कारण कैश लुटने से बच गया।

फैक्ट्री के मालिक रमन सहगल ने बताया कि फैक्ट्री में लगभग चार माह पूर्व भी चोरी की घटना हो चुकी है। उस दौरान चोरों ने फैक्ट्री से इकजास्ट व दो बैटरी चुरा ली थी। चोरी की एफआईआर दर्ज कराई गई थी। आज तक मामले का पर्दाफाश नहीं हुआ।

कासना कोतवाली के एसएचओ अवनीश दीक्षित ने बताया सीसीटीवी में घटना कैद हो गई है। उसके आधार पर बदमाशों की पहचान का प्रयास किया जा रहा है। इस घटना का पर्दाफाश किया जाएगा।

CRIME