डॉक्टर ने पेश की ईमानदारी की मिसाल जिसकी लोग कर रहे हैं सराहना

जहांगीरपुर : कहावत है कि आज के युग में ईमानदार लोगों कमी नहीं है। एक ऐसा ही मामला जहांगीरपुर में भी हुआ जहां पेशे से एक डॉक्टर ने पाए 2 लाख 54 हजार रुपए उसके असली मालिक को वापस लौटा कर मिसाल पेश की है।
dr sunil sharma
मामला जहांगीरपुर कस्बे का है। यहाँ गांव लोदाना निवासी डॉक्टर सुनील कुमार शर्मा जहांगीरपुर में कॉलिज बस स्टैंड निकट क्लीनिक चलाते हैं। बीती रात वो अपना क्लीनिक बंद करके अपनी गाड़ी से गाँव की ओर निकले ही थे कि कॉलेज बस स्टैंड पर उन्हें एक छोटा बैग दिखाई दिया। उन्होंने गाड़ी से उतरकर इस बैक उठाया और गांव की ओर चल दिए। घर पहुंचकर जब उन्होंने बैग खोल कर देखा तो उसमें रुपए भरे पड़े थे। उसको देखकर डाक्टर सुनील एकदम चौंक गए। बैग में कुल 2 लाख 54 हजार रुपए और हाई स्कूल व इंटर के कागज एक फोन डायरी मिली। जिसके बाद उन्होंने तत्काल ही डायरी में अंकित नंबर पर फोन मिलाया तो लालपुर थाना टप्पल निवासी योगेश पुत्र इंद्रपाल ने उठाया। उन्होंने बैग के संबंध में योगेश को पूरी जानकारी दी। योगेश ने बताया जब से रूपये गायब की सूचना घरवालों को मिली है तब से घर में सभी को रो रो -रो कर बुरा हाल है। डॉक्टर सुनील शर्मा ने योगेंद्र को सुबह जहांगीरपुर क्लीनिक पर बुलाया और रुपए से भरा बैग को उन्हें सौंप दिया। योगेश के साथ आए उसके पापा इंद्रपाल सिंह ने डॉक्टर सुनील शर्मा को बार-बार धन्यवाद दिया और उनकी जमकर सराहना की। डॉक्टर की इस प्रशंसनीय कार्य की चारों तरफ चर्चा है। लोगों का कहना है कि आज के जमाने में लोग ₹1000 पर बेईमानी हो जाते हैं मगर डॉक्टर साहब ने 2 लाख 54 हजार रुपए पाए रुपयों को फोन करके उन्हें बुला कर वापस किया अभी ईमानदारी लोगों की कमी नहीं है। —( रिपोर्टर विनय शर्मा/ कृष्णा वत्स )

Sharing is caring!