फ्रीडम 251 रिंगिंग बेल को मिली नोएडा पुलिस की क्लीन चीट

नोएडा । दुनिया का सबसे सस्ता फोने देने का दावा करने वाली कंपनी रिंगिंग बेल को नोएडा पुलिस ने क्लीन चिट दे दी है। यह कंपनी उस समय चर्चा में आई थी जब इसने फ्रीडम 251 प्लान के तहत सबसे सस्ते मोबाइल फोन देने का दावा किया था और इसके लिए उसने बुकिंग भी शुरू कर दी थी।
freedom 251
पुलिस ने कंपनी को क्लीन चिट देते हुए अपनी जांच रिपोर्ट में लिखा है कि कंपनी ने करीब 15 हजार लोगों की मोबाइल के लिए हुई आनलाइन बुकिंग की धनराशि वापस कर दी है।

गौरतलब है कि देश में सबसे सस्ता मोबाइल देने की घोषणा करने वाली नोएडा की रिंगिंग बेल कंपनी ने फरवरी 2016 में हलचल मचा दी थी।

अब नहीं मिलेगा फ्रीडम 251 स्मार्टफोन! रिंगिंग बैल्स के मालिक ने छोड़ी कंपनी

कंपनी ने फरवरी में 251 रुपये में सबसे सस्ता मोबाइल देने की घोषणा की। मोबाइल की आनलाइन बुकिंग भी शुरू की थी। 18 फरवरी को कंपनी की वेबसाइट अत्यधिक ट्रैफिक के कारण खराब हो गई। इसके बाद कंपनी के खिलाफ ग्राहकों को गलत तथ्य बताने के आरोप लगाए गए।

भाजपा सांसद किरीट सौमेया ने रिगिंग बेल कंपनी के एमडी अमित गोयल तथा वरिष्ठ अधिकारी अशोक चह्या के खिलाफ 21 मार्च को धोखाधड़ी और 66 सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम के तहत कोतवाली फेस-3 में एफआइआर दर्ज कराया था। कंपनी निदेशकों को हाई कोर्ट ने गिरफ्तारी से राहत दी थी। जांच अप्रैल 2016 में अपराध शाखा को ट्रांसफर हो गई। अपराध शाखा की जांच में कंपनी को धोखाधड़ी के आरोप में क्लीन चिट दे दी गई है।

यह भी जानें

कंपनी ने गत वर्ष फरवरी में 251 रुपये का दुनिया का सबसे सस्ता फोन देने की घोषणा की थी। इसके बाद पूरे देश में मोबाइल निर्माताओं के बीच यह कंपनी चर्चा का बड़ा विषय बन गई, वहीं इस फोन को पाने के लिए देश की जनता उमड़ पड़ी। सस्ते फोन की घोषणा के बाद कंपनी ने इसकी ऑनलाइन बुकिंग शुरू की थी। 18 फरवरी को कंपनी के वेबसाइट खराब हो गई। इसके बाद कंपनी के खिलाफ ग्राहकों को गलत जानकारी देने के आरोप लगे।

Sharing is caring!