• Home »
  • शिक्षा »
  • गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय में लघु अवधि प्रशिक्षण कार्यक्रम का भव्य समापन

गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय में लघु अवधि प्रशिक्षण कार्यक्रम का भव्य समापन

ग्रेटर नोएडा : साप्तहिक लघु अवधि प्रशिक्षण कार्यक्रम का भव्य समापन राष्ट्रगान द्वारा हुआ । कार्यक्रम के आखिरी दिन प्रो. अनिल कुमार गौतम ने शोधार्थियों को शोध-पत्र लिखने का प्रारूप, लेखन शैली, तकीनीकी शोध विषय का चुनाव आदि विषयों पर कई उदाहरणों के साथ अपना वकतव्य रखा ।
gbu
कार्यक्रम की संयोजक डॉ. नीता सिंह व् डॉ. विदुषी शर्मा ने कहा की ये प्रशिक्षण इंजीनियर्स, संकाय सदस्यों और शोधकर्ताओं के बीच सूचना और संचार प्रौद्योगिकी तकनीक के विकास को बढ़ावा देगा । साप्तहिक कार्यक्रम में इससे पूर्व सिम्बिओसिस विश्वविद्यालय से आयी डॉ. कृति प्रिया ने “सांख्यिकीय तकनीक” विषय पर अपना अनुभव सबके सामने रखा। अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय से आये प्रो. ऍम.ऍम. सुफियान बेग ने बताया की हर शोधार्थी को थोड़े थोड़े समय पर शोधपत्रिका के विभिन्न चैप्टर्स एक एक कर लिखते रहना चाहिए इससे समय पर शोध पूरा हो जायेगा व् आखिरी समय मे कोई समस्या नहीं आएगी । बिट्स पिलानी से आयी डॉ. राखी ने बताया की किस प्रकार “संभावना वितरण” क्रिया द्वारा स्तोचास्टिक प्रक्रिया संपन्न होती है । कार्यक्रम के आखिरी में शोधार्थियों को प्रशस्ति पत्र व् आयोजन समिति के सदस्यों को मोमेंटो भेंट के सम्मानित किया गया।
लघु अवधि प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन स्कूल ऑफ़ आई.सी.टी, गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के द्वितीय सभागार मे कराया गया । कार्यक्रम मे पूरे देश के विभिन्न राज्यों के सूचना और प्रौद्योगिकी क्षेत्र से जुड़े 200 से अधिक शिक्षक, शोधार्थी, शिक्षाविद, सूचना और प्रौद्योगिकी पेशेवर व् इंजीनियर्स ने हिस्सा लिया । कार्यक्रम के ऑफिसियल मीडिया प्रवक्ता श्री गौरव तिवारी ने बताया की साप्तहिक कार्यक्रमके समापन समारोह में मे प्रो. डी. आर. भास्कर ,प्रो. श्वेता आनंद, डॉ. कृति प्रिया, डॉ. राखी, प्रो.ऍम ऍम सुफ़यान बेग, डॉ. राजेश मिश्र , डॉ. गुरजीत कौर , डॉ. नावेद रिज़वी, डॉ. संदीप शर्मा, डॉ. प्रदीप तोमर, डॉ. आर बी सिंह, श्री विमलेश कुमार, श्री दीपक पवार, डॉ. बघेल सहित स्कूल ऑफ़ आई सी टी के कई शिक्षक मौके पर मौजूद रहे ।

Sharing is caring!