प्राधिकरण ने सील किया सुपरटेक जार प्रोजेक्ट का अवैध फ़्लैट

ग्रेटर नोएडा :इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश के बाद ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने सुपरटेक बिल्डर के ओमीक्रान सेक्टर स्थित जार सूट्स प्रोजेक्ट 114 भवनों को सील कर दिया। इसमें 40 विला व 84 फ्लैट को सील किया गया है। 37 फ्लैट को प्राधिकरण पहले ही सील कर चुका है। फ्लैट में जो लोग रह रहे हैं, उन्हें सामान हटाने के लिए एक दो दिन की मोहलत दी गई है। फ्लैट सी¨लग करने पहुंची टीम को लोगों की नाराजगी भी झेलनी पड़ी।
SUPERTECH
जार प्रोजेक्ट में वर्ष 2007 में 844 फ्लैट बनाने की अनुमति दी गई थी। लेकिन बिल्डर ने बिना अनुमति के 1904 फ्लैट का निर्माण कर दिया। प्रोजेक्ट में फ्लैट बुक कराने वालों ने अवैध फ्लैट को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। हाईकोर्ट ने याचिका पर सुनवाई करते हुए फ्लैट सील करने के प्राधिकरण को आदेश दिए थे।

शुक्रवार को प्राधिकरण के नियोजन, प्रोजेक्ट, प्रॉपर्टी विभाग की टीम पुलिस के साथ अवैध फ्लैट को सील करने पहुंची। सूचना मिलने पर मौके पर वह खरीदार भी पहुंच गए। जिनके फ्लैट सी¨लग में आ रहे थे, उन लोगों ने सी¨लग का विरोध किया। लोगों ने कहा कि बिना अनुमति जो फ्लैट बनाए गए हैं उसमें प्राधिकरण की भी घोर लापरवाही है। बिल्डर अवैध फ्लैट का निर्माण कर रहा था तो प्राधिकरण ने कोई कार्रवाई नहीं की, लेकिन पुलिस के आगे उनका विरोध नहीं टिका। टीम ने 40 विला, 84 फ्लैट को सील कर दिया। कुल 1064 यूनिट सील होनी है। 37 को पहले ही सील किया जा चुका है। शनिवार को भी सी¨लग की कार्रवाई होगी।