• Home »
  • नोएडा/ग्रेनो »
  • रोड़ पर बेहोश पडे़ युवक को जय हो कार्यकर्ताओं ने पहुंचाया अस्पताल : न मिले सरकारी डॉक्टर न आई एमबुलेंस

रोड़ पर बेहोश पडे़ युवक को जय हो कार्यकर्ताओं ने पहुंचाया अस्पताल : न मिले सरकारी डॉक्टर न आई एमबुलेंस

ग्रेटर नोएडा । जय हो सामाजिक संस्था के कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार रात ग्रेनो वेस्ट में बेहोशी की हालत में पड़े मिले एक अनजान युवक को बिसरख के सरकारी अस्पताल पहुंचाया। लेकिन अस्पताल में युवक का इलाज करने के लिए कोई डॉक्टर मौजूद नहीं मिला। इतना ही नहीं इस दौरान एंबुलेंस के लिए काफी प्रयास के बाद भी 108 पर कॉल नहीं लगी। जिसके बाद किसी तरह युवक को नोएडा के जिला अस्पताल में भर्ती कराकर उसकी जान बचाई। इस दौरान जय हो कार्यकर्ताओं ने क्षेत्रीय विधायक, सीएमओ को फोन कर बिसरख अस्पताल के डॉक्टरों की शिकायत करी। वहीं इलाज के बाद होश में आए युवक की पहचान कर उसके परिजनों को भी सूचना दी गई।
jai ho
बताते चलें कि जय हो सामाजिक संस्था के पूर्व महासचिव पंडित परमानंद कौशिक व प्रवक्ता रविंद्र रौसा अपने एक अन्य मित्र के साथ गाड़ी में सवार होकर रात 8 बजे नोएडा के लिए जा रहे थे। इसी बीच ग्रेनो वेस्ट के 130 मीटर रोड पर खेरपुर गुर्जर चौक के पास उन्होंने एक युवक को चक्कर खाकर गिरते देखा। ऐसे में उन्होंने गाड़ी रोककर उसे देखा तो वह पूरी तरह बेहोश पड़ा था। जिसे लेकर उन्होंने एंबुलेंस के लिए 108 पर कॉल किया। लेकिन काफी प्रयास के बाद भी एंबुलेंस के लिए कॉल नहीं लगा। ऐसे में जय हो संस्था के तीनों सदस्यों ने युवक को अपनी गाड़ी में ड़ालकर बिसरख स्थित सरकारी अस्पताल में पहुंचाया। लेकिन अफसोस की बात यह रही कि वहां एक फॉर्मासिस्ट को छोड़कर डॉक्टर मौके से नदारद मिले। इतना ही नहीं कई बार फोन किए जाने के बाद भी डॉक्टर एक घंटे तक मौके पर नहीं पहुंचे। इसी बीच साथियों की सूचना पर जय हो सामाजिक संस्था के अध्यक्ष संदीप भाटी एवं महासचिव हरीश बैसोया एडवोकेट भी अपने अन्य साथियों के साथ अस्पताल पहुंच गए। जिन्होंने युवक की हालत को देखते हुए उसे अपनी गाड़ी से ही किसी तरह जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां उसकी जेब से मिले कागजातों के आधार पर युवक की पहचान अनुराग शर्मा पुत्र बुद्ध प्रकाश शर्मा निवासी खुश्यालपुर गुलावठी के रूप में हुई। इस दौरान जय हो के पदाधिकारियों ने मामले की शिकायत फोन द्वारा क्षेत्रीय विधायक तेजपाल नागर व सीएमओ अनुराग भार्गव से भी की। वहीं जय हो संस्था के अध्यक्ष संदीप भाटी ने कहा कि जिले के सरकारी अस्पतालों में तैनात डॉक्टर लोगों की जान से खेल रहे हैं। अस्पतालों की बदहाली के सुधार की मांग को लेकर जय हो संस्था रविवार सुबह क्षेत्रीय विधायक तेजपाल नागर को अपना ज्ञापन सौंपेगी।