समोसे खाने से 11 लोग हुए फ़ूड पॉइजनिंग का शिकार

दनकौर: दनकौर कस्बे में स्थित एक नामचीन हलवाई की दुकान से सोमवार को समोसे खाने से करीब 11 मजदूरों को फ़ूड पॉइजनिंग का मामला प्रकाश में आया है । आनन-फानन में बीमार मजदूरों को आसपास के दुकानदारों ने दनकौर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उनका सोमवार शाम तक इलाज चल रहा था। पीड़ित परिजनों का आरोप है कि समोसे खराब खाने से ही उनके परिवार के लोगों की हालत बिगड़ी है।
food poisioning
जानकारी के मुताबिक, दनकौर कस्बे में स्थित एक मिष्ठान भंडार की दुकान से कस्बे में ही कई दुकानों पर मजदूरी करने वाले करीब 11मजदूर सोमवार को समोसे लेकर आए थे। आरोप है कि समोसे खाने के बाद ही तुरंत सभी को उल्टी और दस्त की शिकायत होने लगी। कुछ देर बाद ही सभी की हालत और ज्यादा बिगड़ गई। जिसके चलते आनन-फानन में सभी पीड़ितों को आसपास के दुकानदारों ने दनकौर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और एक अन्य प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया। जहां डॉक्टरों ने उनको फ़ूड पॉइजनिंग बताया। समोसे खाने से दनकौर कस्बा निवासी नईम, बंटी, गोकल, मनोज, राजन , रहीस, अनवर, छोटू, इकराम और यूनुस समेत 11 मजदूर की हालत खराब हुई है। पीड़ित मजदूरों का आरोप है कि हलवाई ने उनको खराब समोसे दिए थे। जिसके चलते ही उनकी अचानक हालत खराब हुई है।

इस मामले में -महेंद्र श्रीवास्तव, जिला खाद्य अधिकारी ने कहा है अभी तक ऐसा मामला मेरे संज्ञान में नही आया है। पीड़ित द्वारा शिकायत मिलने पर मामले की जांच कराकर आरोपी हलवाई के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। साथ एक टीम दनकौर जांच के लिए भेजी जा रही है।