• Home »
  • UP ELECTION 2017 »
  • टिकट बंटवारे में देरी बनती है हार की वजह

टिकट बंटवारे में देरी बनती है हार की वजह

ग्रेटर नोएडा। चुनाव जीतने की मंशा लेकर पार्टियां अपने उम्मीद्वारों को चुनाव मैदान में उतारती जरुर हैं, लेकिन उम्मीद्वारों को टिकट तब मिलता जब मतदाताओं के पास जाने का बहुत कम समय बचता है । यही कारण है कि पार्टी को हार का सामना करना पड़ता है। अगर पिछले विधानसभा चुनाव की बात की जाये तो भारतीय जनता पार्टी जेवर विधान सभा सीट के लिए अंतिम समय में उम्मीद्वार सुन्दर सिंह राणा के नाम की घोषणा की थी, क्षेत्र की जनता को पता नहीं चल सका की उनके क्षेत्र में किसको टिकट दिया गया। नामांकन करने के बाद प्रत्याशी जब जनता के सामने पहुंच तो मतदाता क्षेत्र में काम करने का हिसाब मांगने लगे तो प्रत्याशी के पास जवाब देने के लिए कुछ नहीं था। यही वजह है कि भाजपा के प्रत्याशी को कुछ ही मतों में संतोष करना पड़ा। विधान सभा चुनाव 2017 की तारीख घोषित की जा चुकी है, गौतमबुद्धनगर जिले में पहले चरण में चुनाव होना है, अभी तक भाजपा और कांग्रेस पार्टी ने अपने उम्मीद्वारों के नाम की घोषणा नहीं किया है। मतदाता समझदार हो गया है, वह उसे ही मत देना चाहता है जो उनके बीच का हो उनके लिए काम कर सके। — रोहित प्रियदर्शन GRENONEWS.COM

Sharing is caring!