युवती के ऑनर किलिंग में आरोपी पिता को उम्रकैद

ग्रेटर नोएडा : जिला न्यायालय की स्पेशल एससी-एसटी कोर्ट ने ऑनर किलिंग के मामले में युवती के पिता को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। आरोपी ने बेटी के प्रेम-प्रसंग से नाराज होकर बेटी के प्रेमी व बेटी दोनों की हत्या कर दी थी। घटना के बाद वह ग्रेटर नोएडा पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार किया था। अब ढाई साल बाद कोर्ट ने पुलिस की मजबूत पैरवी के चलते आरोपी पिता को सजा सुनाई है। मामले की सुनवाई स्पेशल जज एससी-एसटी कोर्ट न्यायाधीश बीके ¨सह ने की।
गौतमबुद्ध नगर के वरिष्ठ अभियोजन अधिकारी दया शंकरराम त्रिपाठी ने बताया कि घंघौला गांव की रहने वाली वर्षा ने 2014 में अपने प्रेमी गुलाब से शादी कर ली थी। शादी के बाद वर्षा अपने पिता का आशीर्वाद लेने के लिए घंघौला गांव आई थी। 25 जुलाई 2014 को वर्षा के पिता राजकुमार ने बेटी के प्रेमी विवाह करने पर आपत्ति जताई थी। लोगों के समझाने के बाद उसने बेटी को माफ नहीं किया। रात होते ही बेटी वर्षा व गुलाब की राजकुमार ने हत्या कर दी थी। बेटी व उसके प्रेमी की हत्या करने के बाद आरोपी राजकुमार वहां से फरार हो गया था। कुछ दिन बाद पुलिस ने उसको गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया था। मामले में कुल आठ गवाह पेश हुए, जिसमें से पांच गवाह अपनी गवाही से पलट गए थे। लेकिन पुलिस की कड़ी पैरवी के चलते कोर्ट ने बेटी व उसके प्रेमी की हत्या के आरोपी पिता राजकुमार को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। आरोपी पर दस हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है। GRENONEWS.COM

Sharing is caring!