• Home »
  • अपराध »
  • डकैती के पैसों के बंटवारे को लेकर हुई थी बदमाश की हत्या

डकैती के पैसों के बंटवारे को लेकर हुई थी बदमाश की हत्या

ग्रेटर नोएडा। डकैती के पैसों के बंटवारे को लेकर चार बदमाशों ने अपने साथी की हत्या कर शव को थाना जारचा क्षेत्र में चचूला गांव के पास फेंक दिया। पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। उसने पूछताछ में इस मामले का खुलासा किया है।
KALEEM
सीओ – 3 ग्रेटर नोएडा राकेश कुमार ने बताया कि एक मार्च को गौर चैराहे के पास साजिद व सर्फराज नामक दो लोगों को उसके साथियों ने गोली मार दी थी। इस मामले में सर्फराज ने थाने में हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज कराया था। सीओ ने बताया कि इस मामले की थाना पुलिस जांच कर रही थी कि इसी बीच एक सूचना के आधार पर बीती रात को पुलिस ने कलीम नामक बदमाश को गिरफ्तार किया। उन्होंने बताया कि कलीम ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया कि साजिद, सर्फराज, राजू, दीपक आदि का उनका एक डकैतों का गिरोह है। ये लोग थाना सेक्टर-58 क्षेत्र के बिसनपुरा गांव में रहकर नोएडा व ग्रेटर नोएडा की कंपनियों में डाका डालते हैं। ये लोग उन्हीं कंपनियों को अपना शिकार बनाते हैं जहां पर काॅपर व एल्युमिनियम के पार्ट्स बनते हैं। सीओ ने बताया कि पूछताछ के दौरान कलीम ने खुलासा किया कि एक मार्च को वे लोग अपनी इनोवा कार में सवार होकर नोएडा से ग्रेटर नोएडा जा रहे थे। तभी पैसों के बंटवारे केा लेकर आपस में विवाद हो गया। राजू ने साजिद के ऊपर गोली चला दी। गोली साजिद के हाथ में लगी। ये लोग साजिद का उपचार कराने के लिए अस्पताल के लिए चले। इसी बीच फिर विवाद हो गया व कलीम ने तमंचे से गोली चला दी जो सर्फराज को लगी। सर्फराज कार से उतरकर भाग गया। उसके अन्य साथी साजिद को गाड़ी में लेकर चले गये। कलीम ने खुलासा किया कि कुछ देर बाद साजिद की गोली मारकर उन लोगों ने हत्या कर दी तथा शव को चचूला गांव के पास फेंक दिया। सीओ ने बताया कि कल जारचा पुलिस ने क्षत-विक्षत शव को बरामद किया। साजिद के पिता ने उसकी पहचान कर ली है। इस मामले में फरार अन्य आरोपियों की पुलिस तलाश कर रही है। मृतक साजिद मेरठ के नौचंदी थाने का फरार अभियुक्त था। कोर्ट ने उसके घर की कुर्की के आदेश जारी किये हैं। वहीं सर्फराज थान बहजोई व नौचंदी से वांछित है। इसके घर की कुर्की के भी कोर्ट द्वारा आदेश किये गये हैं।