केक काटकर राममनोहर लोहिया की जयंति मनाई

नोएडा। समाजवाद के पुरोधा राममनोहर लोहिया की जयंति सेक्टर-31 निठारी में मनाई गई। जयंति पर सपा के नोएडा विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी सुनील चैधरी समेत कई ने केक काटा।
LOHIYA JAYANTI
सुनील चैधरी ने कहा कि स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद के राजनेताओं में लोहिया मौलिक विचारक थे। लोहिया के मन में भारतीय गणतंत्र को लेकर ठेठ देसी सोच थी। अपने इतिहास, अपनी भाषा के सन्दर्भ में वे कतई पश्चिम से कोई सिद्धांत उधार लेकर व्याख्या करने को राजी नहीं थे। सन् 1932 में जर्मनी से पीएचडी की उपाधि प्राप्त करने वाले राममनोहर लोहिया ने साठ के दशक में देश से अंग्रेजी हटाने का जो आह्वान किया। लोहिया जी केवल चिन्तक ही नहीं, एक कर्मवीर भी थे। उन्होंने अनेक सामाजिक, सांस्कृतिक एवं राजनैतिक आन्दोलनों का नेतृत्व किया। सन 1942 में भारत छोड़ो आन्दोलन के समय उषा मेहता के साथ मिलकर उन्होने गुप्त रेडियो स्टेशन चलाया। 18 जून 1946 को गोवा को पुर्तगालियों के आधिपत्य से मुक्ति दिलाने के लिये उन्होंने आन्दोलन आरम्भ किया। अंग्रेजी को भारत से हटाने के लिये उन्होने अंग्रेजी हटाओ आन्दोलन चलाया। उन्होंने लोहिया जी के बताये मार्ग पर चलने का आह्वान किया। इस मौके पर पूर्व महानगर अध्यक्ष बीर सिंह यादव, लोहिया वाहिनी के प्रदेश उपाध्यक्ष रेशपाल अवाना, विकास यादव, श्रीपाल प्रधान, बीरपाल प्रधान, प्रवीण शर्मा, सतपाल यादव, मनोज प्रजापति, अजय प्रधान व रविंद्र यादव सहित कई कार्यकर्ता व पदाधिकारी मौजूद थे।