• Home »
  • शिक्षा »
  • गलगोटिया में सौर प्रौद्योगिकी पर सेमिनार आयोजित

गलगोटिया में सौर प्रौद्योगिकी पर सेमिनार आयोजित

ग्रेटर नोएडा : नाॅलिज पार्क स्थित गलगोटिया काॅलिज आॅफ इंजिनियरिंग एण्ड टैक्नाॅलोजी में विद्युत विभाग भारत सरकार के राष्ट्रीय विद्युत प्रशिक्षण संस्थान के सहयोग से बिजली क्षेत्र में नवीनतम रूझानो, सौर प्रौद्यौगिकी और प्रबंधन बल पर तीन दिवसीय प्रशिक्षण सेमीनार का आयोजन किया गया।
galgotia
कार्यक्रम को मैेकेनिकल इंजिनियरिंग विभाग जीसीईटी के द्वारा आयोजित किया जा रहा है। कार्यक्रम में वक्ता के रूप में डाॅ0 के0 पी0 सिह परमार, सहायक निदेशक (तकनीकी) राष्ट्रीय विद्युत प्रशिक्षण संस्थान एवं अमित मिश्रा सहायक निदेशक एन0,पी0,टी0,आई0 ने भाग लेते हुए कहा कि देश में वर्तमान समय में सौर ऊर्जा से विद्युत उत्पादन लगभग 8513 मेगा वाॅट है। इसी ओर काम करते हुए विद्युत मंत्रालय द्वारा वर्ष 2022 तक 100000 मेगा वाॅट का लक्ष्य रखा गया हैं। छात्रों से बताया कि राष्ट्रीय विद्युत प्रशिक्षण संस्थान सम्पूर्ण भारत में तकनीकी संस्थानो के छात्रों के लिए कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम संचालित कर रही है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य छात्रों को सौर ऊर्जा के क्षेत्र में तकनीकी और प्रबंधन के विभिन्न पहलुओं के बारे में अवगत कराना है। ताकि रोजगार के अवसर अधिक से अधिक प्रदान किए जा सके। डाॅ0 परमार ने छात्रों को सौर विकिरण भौतिकी और सौर प्रौद्योगिकी के मूल तत्वों को समझाते हुए सौर ऊर्जा की विकास निति के पहलुओं विकास योजनाओं और चुनौतियोेें के बारे में बताया। अमित मिश्रा ने बिजली उत्पादन को समझाते हुए ऊर्जा के विभिन्न स्रोंतो एवं पारंपरिक ऊर्जा संयत्रों जैसे हाईड्रो, थर्मल और परमाणु, पवन प्रणाली परिषण प्रणाली व राष्ट्रीय ग्रिड, के नवीनतम तकनीकों के विकास के बारे में चर्चा की। काॅलिज के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ध्रुव गलगोटिया ने प्रशिक्षण संस्थान को धन्यवाद देते हुए कहा कि ऐसे सेमिनार छात्रों के तक तकनीकी ज्ञान के लिए बहुत मददगार और उपयोगी होते है। सेमीनार में डाॅ0 वी0,के0 दिवेदी निदेशक गलगोटिया काॅलिज, आसिम कादरी मुख्य अधिकारी एम0,ई0 विभाग और विभागीय शिक्षक उपस्थित रहे।