• Home »
  • व्यापार »
  • यामाहा ने ग्रेटर नोएडा के दिल्ली पब्लिक स्कूल में मनाया ‘ज़िप्पी’ का तीसरा जन्मदिन

यामाहा ने ग्रेटर नोएडा के दिल्ली पब्लिक स्कूल में मनाया ‘ज़िप्पी’ का तीसरा जन्मदिन

ग्रेटर नोएडा : इण्डिया यामाहा मोटर प्रा. लिमिटेड ने दिल्ली पब्लिक स्कूल में अपने मैस्कोट ‘ज़िप्पी’ का तीसरा जन्म दिन मनाया। अपने ‘सेफ्टी फर्स्ट’ अभियान के तहत इण्डिया यामाहा मोटर प्रा. लिमिटेड ने 2014 में अपनी तरह के पहले यामाहा चिल्ड्रन सेफ्टी प्रोग्राम (बाल सुरक्षा कार्यक्रम- YCSP) का लाॅन्च किया था।
YAMHA
इस पहल के माध्यम से बच्चों को सुरक्षित एवं ज़िम्मेदार राइडिंग के लिए प्रोत्साहित करना यामाहा का मुख्य उद्देश्य है। इस पहल को बढ़ावा देने के लिए अभियान का लाॅन्च मैस्कोट ‘ज़िप्पी’ के साथ किया गया। बच्चों को प्रोग्राम के प्रति आकर्षित करने और उन्हें प्रोग्राम के साथ जोड़ने के लिए ज़िप्पी को पेश किया गया। इस अवसर पर कम्पनी ने 18 साल से कम उम्र की युवतियों के लिए YCSP प्रोग्राम का भी आयोजन किया तथा 18 साल से अधिक उम्र की महिलाओं के लिए व्यवहारिक प्रशिक्षण सत्रों का आयोजन किया गया। इस साल के जश्न के माध्यम से इलेक्ट्रोनिक बैंकिंग की आदतों एवं नकदरहित अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने का भी प्रयास किया गया। इस मौके पर इण्डियन आइडल विजेता अनन्या नन्दा तथा मिस सुपरनेशनल 2014 आशा भट्ट ने कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई और बच्चों के साथ बातचीत की।

इस अवसर पर यामाहा मोटर इण्डिया सेल्स प्रा. लिमिटेड में वाईस प्रेज़ीडेन्ट- सेल्स एण्ड मार्केटिंग श्री राॅय कुरियन ने कहा, ‘‘दुनिया भर में सड़क सुरक्षा एवं सुरक्षित राइडिंग के बारे में जागरुकता बढ़ाने की यामाहा की प्रतिबद्धता के मद्देनज़र सुरक्षा मैस्कोट ‘ज़िप्पी’ को पेश किया गया है। बच्चों के लिए विभिन्न पाठ्येत्तर गतिविधियों के माध्यम से यामाहा का ज़िप्पी बेहद रोचक तरीके से सड़क सुरक्षा एवं यातायात नियमों के बारे में ज़रूरी संदेश देता है। ज़िप्पी के तीसरे जन्मदिन के मौके पर नकदरहित अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए लोगों को इलेक्ट्रोनिक बैंकिंग की आदतें अपनाने का भी संदेश दिया जाएगा। ज़िप्पी बच्चों को इलेक्ट्रोनिक बैंकिंग की आदतों के लिए प्रोत्सािहत करेगा ताकि भविष्य में उन्हें नकदरहित अर्थव्यवस्था के लिए तैयार किया जा सके।’’ 2014 के बाद से यामाहा बाल सुरक्षा कार्यक्रम -YCSP भारत के 575 ज़िलों में फैल चुका है। — रोहित प्रियदर्शन GRENONEWS.COM

यामाहा मोटर इण्डिया सेल्स प्रा. लिमिटेड के बारे में

यामाहा ने 1985 में भारत में अपनी गतिविधियों की शुरूआत की। अगस्त 2001 में यामाहा मोटर इण्डिया, यामाहा मोटर कम्पनी लिमिटेड, जापान (YMC ) की 100 फीसदी सब्सिडरी बन गई। 2008 में मित्सुई एण्ड कम्पनी लिमिटेड ने YMC के साथ एक एग्रीमेन्ट पर हस्ताक्षर किए जिसके तहत यह ‘‘इण्डिया यामाहा मोटर प्रा. लिमिटेड (IYM ) में एक संयुक्त निवेशक बन गया। YMC ने भारत में IYM को इसके उत्पादों की बिक्री एवं विपणन में सहयोग प्रदान करने के लिए पूर्ण स्वामित्व की सब्सिडरी- यामाहा मोटर इण्डिया सेल्स प्रा. लिमिटेड (YMIS) की स्थापना की है।

वर्तमान में YMIS & IYM को इसके दोपहिया वाहनों की बिक्री एवं विपणन में सहयोग प्रदान करता है, इसके प्रोडक्ट पोर्टफोलियो में स्पोर्ट्स माॅडल जैसे वायजै़डऐफ -आर 3 (321 सीसी), वायजै़डऐफ-आर 15 वर्ज़न 2.0 (149 सीसी), वायज़ैडऐफ आर 15 ऐस (149 सीसी), अन्य माॅडल जैसे ऐफज़ैड (153 सीसी); ब्लू कोर प्रोद्यौगिकी द्वारा इनेबल्ड माॅडल जैसे ऐफज़ैड-ऐस ऐफ़ आई (फ्यूल इन्जेक्टेड, 149 सीसी), ऐफज़ैड ऐफ़ आई (फ्यूल इन्जेक्टेड 149 सीसी), फेज़र ऐफआई (फ्यूल इन्जेक्टेड, 149 सीसी), ऐसज़ैड-आरआर वर्ज़न 2.0 (149 सीसी), सैल्यूटो आरएक्स (110 सीसी), सैल्यूटो (125 सीसी), सिगनस रे ज़ैडआर (113 सीसी), फैसिनो (113 सीसी), सिगनस एल्फा (113 सीसी), सिगनस रे जै़ड (113 सीसी) शामिल हैं। इसके इम्पोर्ट पोर्टफोलियो में इसकी अत्याधुनिक सुपरबाइक एमटी-09 (847 सीसी) और आयातित माडॅलों में वीमैक्स (1,679 सीसी), वायजै़डएफ-आर1 एम (998 सीसी) तथा वायजै़डऐफ-आर1 (998सीसी) शामिल हैं।